Author Topic: नास्तिकों का आरोपों का मुह तोढ़ जबाब  (Read 2360 times)

0 Members and 1 Guest are viewing this topic.

Jupiter Joyprakash

  • Administrator
  • Full Member
  • *****
  • Posts: 175
  • Karma: +0/-0
    • View Profile
ये मुह तोढ़ जवाब मेरा नहीं है। भार्चुयल मोमिन लोगों ने समय समय पर जो जवाब दिया था उसी को बस एक जगह पर जमा किया है। खुद पढ़िए, लोगों को पढ़ाइये और इमान को मजबूत किजिये।

By Washikur Babu
Translated by Jupiter
Original source http://logicalforum.com/index.php?topic=46.0

Jupiter Joyprakash

  • Administrator
  • Full Member
  • *****
  • Posts: 175
  • Karma: +0/-0
    • View Profile
आइए, नास्तिक के आरोप का मुह-तोढ़ जबाब देते है

आरोप 1
 मुहम्मद ने काबा के मूर्तिया तोढ़े , अपने ही पालित पुत्र की बीबी से सादी किया , इसके लिए पालित संतान की प्रथा का लोप कर दिया, ओरतों को पर्दे मे बंद कर दिया

मुह-तोढ़ जबाब:
कोई प्रथा समाज मे चालू रहने से ही वो सही नेही हो जाता । मुहम्मद दुनिया के सबसे महान संसकारक थे। उन्होने समाज का फायदे के लिए  कई आचार का लोप करके नए बिधान दिये थे। उनके द्वारा किया गया  हर परिबर्तन की वजह से दुनिया का फाइदा हुया है।

आरोप २
मुहम्मद ने युद्ध बे मिले औरतों का बलात्कार किया, काफी सारे बीबी और दासी वी भोगा । नाबालिक से  भी शादी किया । बिधर्र्मि जाति के  लोगों का क़तल किया या फिर देश से भागा दिया।

मुह-तोढ़ जबाब:
ये सब उस जमाने मे आरब की आम प्रथा हुया करता था। हर कोई जंग जीत कर येही करता था। इसमे मुहम्मद को दोष देने का कोई कारण नेही है।
--------
ये मुह तोढ़ जवाब मेरा नहीं है। भार्चुयल मोमिन लोगों ने समय समय पर जो जवाब दिया था उसी को बस एक जगह पर जमा किया है। खुद पढ़िए, लोगों को पढ़ाइये और इमान को मजबूत किजिये।

Jupiter Joyprakash

  • Administrator
  • Full Member
  • *****
  • Posts: 175
  • Karma: +0/-0
    • View Profile
आरोप ३
इस्लाम मे युद्ध बंदियों और दासियों की बलात्कार की अनुमति है।
मुह-तोढ़ जबाब: देखिये, हजार साल पहले किसने क्या किया था वो सब सोचकर कोई फाइदा नेही है। आज के मुसलमान दासियों का बलात्कार नेही करते।

आरोप ४
आज के मुसलमान हिलला शादी करते है। औरतों का खतना करते है।

मुह-तोढ़ जबाब: आज के कोई मुसलमान कुछ बुरे काम करने से इस्लाम बुरा नेही हो जाता। ये लोग सही मुसलमान नेही है। हमें ये देखना है के मुहम्मद और उनके साथी कैसे इस्लाम का पालन करते थे। वही सही इस्लाम है।